Breaking News

जब मोदी के कान में फुसफुसाए मुलायम, आखिर ऐसा क्या कह दिया

पटना :उत्तर प्रदेश के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह का मौका था. उत्तर भारत की राजनीति के तमाम दिग्गज मौजूद थे. क्या विपक्ष और क्या सत्ता पक्ष, रविवार की दोपहर लखनऊ के कांशीराम स्मृति उपवन में कमोबेश सभी पार्टियों के बड़े-बड़े नेता मौजूद थे. तभी मंच पर पदार्पण होता हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का.

प्रधानमंत्री के सम्मान में अभिवादन स्वरूप सभी नेता खड़े हो जाते हैं. मंच पर समाजवादी पार्टी के संस्थापक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह भी थे. प्रधानमंत्री से मिलने के लिए मुलायम खड़े होते हैं. हाथ जोड़ कर दोनों एक दूसरे से मिलते हैं, दुआ-सलाम होता है, तभी मुलायम के किसी बात को नरेंद्र मोदी कान लगा कर सुनते हैं. सबकी निगाहें उस ओर टिक जाती हैं. और प्रधानमंत्री बात खत्म होने के बाद सहमति स्वरूप सर हिलाते हैं. फिर आगे बढ़ जाते हैं.

देखिए कैसे कान मे बोले मुलायम :

क्या मनोज तिवारी ने भी सुनी बात

जब मुलायम सिंह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आपस में बात कर रहे थे, तब उनके सबसे बगल में थे भाजपा सांसद मनोज तिवारी. दोनों की मुलाकात के समय भी मनोज तिवारी मुस्कुराते नजर आते हैं. और, जब मुलायम सिंह की बात को सुनने के लिए नरेंद्र मोदी कान लगाते हैं, तो मनोज तिवारी भी थोड़े उचक कर ध्यान से सुनने की कोशिश करते हैं. अब ये तो मनोज तिवारी ही जानते होंगे कि उन्होंने मुलायम सिंह की बात सुनी है या नहीं.

इतनी पर्सनल बात…

योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव समेत उत्तर प्रदेश की राजनीति के तमाम दिग्गज पहुंचे थे. मगर प्रधानमंत्री से मुलाकात के दौरान मुलायम सिंह को छोड़ सभी से केवल अभिवादन स्वरूप मुलाकात ही हो सकी. अखिलेश यादव जब शपथ से पहले मंच पर पहुंचे थे, तो सभी विधायकों से मुलाकात की थी. लेकिन यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख मायावती नहीं पहुंची. जबकि उन्हें निमंत्रण भी भेजा गया था.

इनके अलावा भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और यूपी के पूर्व सीएम नारायण दत्त तिवारी सहित पार्टी के कई नेता मौजूद थे. भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के अलावा एनडीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्री भी इस शपथ ग्रहण समारोह के गवाह बने. राज्यपाल राम नाईक ने केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा को उप मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई. मंच पर पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह भी उपस्थित थे. आपको बता दें कि शनिवार को भाजपा के संसदीय दल की बैठक में योगी आदित्यमाथ को यूपी के मुख्यमंत्री के लिए चुना गया था. विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 325 सीटों के साथ ऐतिहासिक बहुमत हासिल की है.

यह भी पढ़ें : बक्सर आने से पहले ही विश्वामित्र का मिला आशीर्वाद, योगी बने यूपी के सीएम

योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट में मंत्री बना ये मुस्लिम चेहरा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *